University Exams UGC Guidelines 2020: फाइनल ईयर परीक्षाओं और गाइडलाइंस को लेकर यूजीसी ने दिया ये ताजा बयान

0
105
UGC
UGC

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने शनिवार को कहा कि देश में 194 विश्वविद्यालय फाइनल ईयर स्टूडेंट्स की परीक्षा आयोजित करा चुके हैं। यूजीसी ने कहा कि परीक्षा शिक्षा व्यवस्था का अभिन्न अंग है। इसके जरिए ही देखा जाता है कि स्टूडेंटस ने कितना सीखा है। उच्च शिक्षा नियामक की ओर यह बात ऐसे समय में कही गई है जब कई राज्यों ने कोविड-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए विश्वविद्यालय परीक्षा आयोजित करने का विरोध जताया है। आयोग ने कहा कि हाल ही में विश्वविद्यालयों से सम्पर्क करके परीक्षा आयोजित करने के संबंध में स्थिति रिपोर्ट मांगी गई। 

यूजीसी की रिवाइज्ड गाइडलाइंस के मुताबिक सभी कॉलेजों व विश्वविद्यालयों के लिए 30 सितंबर तक यूजी और पीजी कोर्सेज के फाइनल ईयर/सेमिस्टर की परीक्षाएं कराना अनिवार्य है। रिवाइज्ड गाइडलाइंस आने के बाद तमाम राज्यों में कंफ्यूजन की स्थिति पैदा हो गई है। दिल्ली, राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, महाराष्ट्र, ओडिशा, मध्य प्रदेश और पश्चिम बंगाल जैसे राज्य परीक्षाओं के आयोजन को लेकर असमर्थता जताते हुए उसे रद्द कर चुके हैं।

यूजीसी के सचिव प्रो. रजनीश जैन ने कहा कि परीक्षाओं में आपका प्रदर्शन आपको जिदंगी भर के लिए एक विश्वसनीयता देता है। वैश्विक स्तर पर एडमिशन के दौरान इससे मदद मिलती है। इसके अलावा स्कॉलशिप, अवॉर्ड, प्लेसमेंट के लिए भी परीक्षाओं में आपका प्रदर्शन भी अहमियत रखता है। 

जैन ने कहा, ‘अगर आप दुनिया के अन्य देशों की ओर देखोगे तो हर बेस्ट यूनिवर्सिटी में परीक्षाएं आयोजित की गई हैं। आप अमेरिका, यूएस, कनाडा, जर्मनी, सिंगापुर, हांगकांग, ऑस्ट्रेलिया समेत कई देशों की यूनिवर्सिटी की तरफ देख सकते हैं। वहां स्टूडेंट्स को परीक्षा देने के लिए ऑनलाइन, ऑफलाइन, ब्लेंडेड समेत कई ऑप्शन दिए गए। परीक्षाएं जीवन भर के लिए छात्रों के मूल्यांकन को विश्वसनीयता देती हैं। परीक्षा से ही उन्हें वह डिग्री मिलेगी जिसके बलबूते वह आगे एडमिशन लेंगे या प्लेसमेंट लेंगे। 

UGC गाइडलाइंस को हाईकोर्ट में दी गई चुनौती, फाइनल ईयर परीक्षा रद्द करने की मांग

यूजीसी ने कहा कि 560 विश्वविद्यालयों ने ऑनलाइन या ऑफलाइन तरीके से अंतिम वर्ष की परीक्षा ली है या लेने की योजना बना रहे हैं। 

यूजीसी ने एक बयान में कहा कि कुल 945 विश्वविद्यालयों में से उसे 755 विश्वविद्यालयों से प्रतिक्रिया प्राप्त हुई है जिसमें 120 डीम्ड, 274 निजी विश्वविद्यालय, 40 केंद्रीय विश्वविद्यालय तथा 321 राज्य विश्वविद्यालय शामिल हैं। 

UGC ने कहा, परीक्षाएं न होने से उठेगा डिग्री की वैधता पर सवाल, सभी राज्य कराएं फाइनल ईयर के एग्जाम

बयान में कहा गया है कि 755 विश्वविद्यालयों में से 560 विश्वविद्यालयों ने आनलाइन या ऑफलाइन तरीके से परीक्षा ली है अथवा लेने की योजना बना रहे हैं ।

आयोग ने कहा कि 194 विश्वविद्यालयों ने पहले ही ऑनलाइन या ऑफलाइन माध्यम से परीक्षा ली है जबकि 366 विश्वविद्यालय अगस्त या सितंबर में परीक्षा लेने की योजना बना रहे हैं। यूजीसी ने कहा कि 2019-20 से अब तक स्थापित होने वाले 27 निजी विश्वविद्यालयों के मामले में पहला बैच अभी अंतिम वर्ष की परीक्षा देने के पात्र नहीं हुआ है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here